Answer :

कजली दंगल के दौरान प्रतियोगी एक दुसरे को ललकारकर एक दूसरे को चुनौती देते थे| इसी दौरान 16 वर्षीय टुन्नू ने दुलारी को ललकारते हुए कहा ‘‘रनियाँ ले --- {--- {--- परमेसरी लोट’’ (प्रामिसरी नोट) तो उत्तर में दुलारी ने कहा- तै सर बउला बोल जिन्नगी में कब देखले लौट? दुलारी के ऐसा कहने के पीछे यह कारण था कि टुन्नू अभी 16 वर्ष का था और उसने अभी दुनिया नहीं देखी थी| दुलारी यह कहना चाहती थी कि टुन्नू बढ़-चढ़कर मत बोल, तूने लोट(पैसे) कहाँ देखें हैं अभी तो तूँ 16 वर्ष का ही है| टुन्नू के पिताजी भी यजमानी करते थे और बड़ी मुश्किल से अपनी गृहस्थी चला पाते थे| उसके ऐसा कहने के पीछे यही कारण था|


Rate this question :

How useful is this solution?
We strive to provide quality solutions. Please rate us to serve you better.
Try our Mini CourseMaster Important Topics in 7 DaysLearn from IITians, NITians, Doctors & Academic Experts
Dedicated counsellor for each student
24X7 Doubt Resolution
Daily Report Card
Detailed Performance Evaluation
caricature
view all courses
RELATED QUESTIONS :

<span lang="AR-SANCERT Hindi - कृतिका भाग 2

NCERT Hindi - कृतिका भाग 2

<spNCERT Hindi - कृतिका भाग 2

<span lang="AR-SANCERT Hindi - कृतिका भाग 2

<span lang="AR-SANCERT Hindi - कृतिका भाग 2

<span lang="AR-SANCERT Hindi - कृतिका भाग 2

NCERT Hindi - कृतिका भाग 2

<span lang="AR-SANCERT Hindi - कृतिका भाग 2

<span lang="AR-SANCERT Hindi - कृतिका भाग 2

<span lang="AR-SANCERT Hindi - कृतिका भाग 2