Answer :

मिठाईवाला रोहिणी और दादी की बातें सुनकर भावुक हो जाता है। रोहिणी, मिठाईवाले से पूछती है कि इस शहर में और कभी भी आए थे या पहली बार आए हो। यहां के निवासी तो लगते नहीं। तब मिठाईवाला बताता है, पहली बार नहीं और भी कई बार आ चुका हूं। फिर रोहिणी ने पूछा कि इस व्यवसाय में तुम्हें क्या मिलता होगा। इस पर वह बोला कि खानेभर का मिल जाता है। कभी नहीं भी मिलता। लेकिन संतोष, धीरज और असीम सुख जरूर मिलता है। मिठाईवाले ने आगे बताया कि वो अपने नगर का प्रतिष्ठित व्यक्ति था। उसकी पत्नी और दो बच्चे थे लेकिन अब वो नहीं रहे। उसका जीवन उजड़ चुका था। उसने यह व्यवसाय इसलिए शुरू किया क्योंकि वो दूसरों के बच्चों में अपने बच्चों की छवि देखता था। उसके बच्चे भी इसी तरह खिलौने, मिठाई और मुरली पाकर खुश होते थे।


Rate this question :

How useful is this solution?
We strive to provide quality solutions. Please rate us to serve you better.
RELATED QUESTIONS :

NCERT Hindi -वसंत भाग 2

NCERT Hindi -वसंत भाग 2

NCERT Hindi -वसंत भाग 2

NCERT Hindi -वसंत भाग 2

NCERT Hindi -वसंत भाग 2

NCERT Hindi -वसंत भाग 2

NCERT Hindi -वसंत भाग 2

NCERT Hindi -वसंत भाग 2

NCERT Hindi -वसंत भाग 2

NCERT Hindi -वसंत भाग 2